Screen Reader Access Skip to Main Content Font Size   Increase Font size Normal Font Decrease Font size
Indian Railway main logo
खोज :
Find us on Facebook   Find us on Twitter Find us on Youtube View Content in English
National Emblem of India

हमारे बारे में

भारतीय रेलवे कार्मिक

समाचार एवं भर्ती

निविदाओं और अधिसूचनाएं

प्रदायक सूचना

जनता सेवा

हमसे संपर्क करें



 
Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS
Electrical TRS

विद्युत् (चल स्टाक)

सामान्य परिचय

Øविद्युतलोकोशेडझाँसी 100 लोकोकीक्षमताकेअनुरूपवर्ष1987 मेंस्थापितहुआथा | इसकीप्रारम्भिकहोल्डिंग 17लोकोथी |

Øवर्तमानमेंशेडकीहोल्डिंग230लोको (+1 लोको कंडम किया जाना हैं) हैजिसमें डब्ल्यू.ए.पी - 4 के 38 लोको,डब्ल्यू.ए.जी - 7 के 76 लोको (34 बी.एच.ई.एल. + 42 सी.एल.डब्ल्यू.)औरडब्ल्यू.ए.जी. – 5 के 116 लोको (73 बी.एच.ई.एल. + 43 सी.एल.डब्ल्यू.)हैं | (+1 डब्ल्यू.ए.जी. – 5/ बी.एच.ई.एल. टाइप लोको की दुर्घटना में अत्यधिक क्षति हो जाने के कारण कंडम किया जाना हैं |)

Øबी.एच..एल. एवंसी.एल.डब्ल्यू द्वारानिर्मितनयेडब्ल्यू.ए.जी - 7 टाइप लोकोमें कुछविशेषविशिष्टतायेंहैजैसेड्राइवरडेस्कमेएफ.आर.पी.सहितक्रूफ्रैडलीकैबएयरकंडीशनर, विजिलेंस कंट्रोल डिवाइस वस्टिकटाइप मास्टरकंट्रोलरलगेहै |

Øविद्युतलोकोशेडझाँसीभारतीयरेलमेप्रथमलोकोशेडहैं जिसने सफलतापूर्वक कन्वेंशनल डब्ल्यू.ए.जी – 7 (24517) लोको को रिजेनेरेटिव ब्रेकिंग में अपग्रेड किया हैं | यह विद्युत् लोको शेड, झाँसी एवं बी.एच..एल. के संयुक्त प्रयासों से लोको में कुछ हार्डवेयर एवं सॉफ्टवेयर में संशोधन करने के उपरांत हुआ हैं | भारतीय रेलवे में पुन: कार्य हेतु शामिल करने से पूर्व लोको का सख्त रूप से लाइन पर परीक्षण किया गया हैं |

यह ऊर्जा संरक्षण की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम हैं ताकि कन्वेंशनल लोकोमोटिव को अधिक ऊर्जा संरक्षण हेतु दक्ष किया जा सके | इस प्रकार लोकोमोटिव सतत विकास की दिशा में राष्ट्र निर्माण हेतु वास्तविक भूमिका निभा रहा हैं |

Øविद्युतलोकोशेडझाँसीभारतीयरेलमेप्रथमलोकोशेडथाजिससेतीनप्रतिष्ठितअंर्तराष्ट्रीयमानकजैसेआई.एस.. 14001-2004.एच.एस..एस. 18001-2007 आई.एस.. 9001-2008 कोएकसाथवर्ष 2005 में प्राप्तकियाएवं वर्तमान वर्ष तक लगातार नवीनीकरण भी कराता रहा हैं |


 

संगठन

राजपत्रित

क्रम संख्या

नाम

पदनाम

कब से

1. 

श्री मयंक शांडिल्य

वरिष्ठ मंडल विद्युत् इंजीनियर/ चल स्टाक/ झाँसी

24.09.18

2. 

श्री नितिन कुमार गुप्ता

मंडल विद्युत् इंजीनियर/ स्पेशल/ चल स्टाक/ झाँसी

19.02.21

3. 

श्री अभिषेक सिंह

मंडल विद्युत् इंजीनियर/ चल स्टाक/ झाँसी

10.04.18

4. 

श्री अन्जनेय भारद्वाज

वरिष्ठ सामग्री प्रबंधक/ विद्युत् लोको शेड/ झाँसी

09.06.21

5. 

श्री नीलकमल श्रीवास्तव

सहायक मंडल विद्युत् इंजीनियर/ चल स्टाक/ झाँसी

18.03.20

6. 

रिक्त

सहायक मंडल विद्युत् इंजीनियर/ चल स्टाक/ झाँसी

01.11.18

 

अराजपत्रित

क्रम संख्या

वर्ग

विद्युतलोकोशेडझाँसी

स्वीकृत कर्मचारी क्षमता

मेन ऑन रोल

1. 

सुपरवाइजर

82

58

2. 

आर्टिशियन

594

408

3. 

अनस्किल्ड

55

134

 

कुल

731

600

 

उपलब्धिया:

·लोको कैब में एयर कंडीशनर का 100% कार्यरत है |

·10 लोको में हाई रीच पेंटोग्राफ का प्रावधान |

·विद्युत् लोको शेड, झाँसी के खाते में लोको के पटरी से उतरने के शून्य मामले |

·वर्तमान वर्ष में पेंटोग्राफ की खराबी के कारण पेंटोग्राफ उलझने के शून्य मामले |

·वर्तमान वर्ष में शीतकाल में पेंटोग्राफ न उठने के शून्य मामले |

·शेड में गंभीर क्षति के शून्य मामले |

·आन्दोलन के खाते में में ओवर अपव्यय के शून्य मामले |

मुख्य बातें एवं अन्य उपलब्धिया

सदैव उच्चतम उपलब्धता (आउटेज):

Øकीर्तिमान गुड्स नेट लोको आउटेज : दिनांक 28.10.19 को विद्युत् लोको शेड, झाँसी ने उच्चतम गुड्स नेट आउटेज 203.3 (+35.6 लोको जो कि : नियत लक्ष्य 167.7 लोको से +21.23% अधिक हैं)| यह झाँसी शेड के इतिहास में अभी तक का सर्वोच्च आउटेज हैं | पूर्व मे सर्वोच्च आउटेज 200.5 लोको था |

शेड की विगत वर्ष 2020-21 मे औसत उपलब्धिता (आउटेज) +16.82 पायी जो कि10.62% हैं |

Øशेड की वर्तमान वर्ष 2020-21 (माह जून 2021 तक) मे औसत उपलब्धिता (आउटेज) +15.91 है जो कि पुन: 11.5% हैं |

Øदिनांक 23.02.21 को सर्वोच्च CUF% जो कि 19.5% है हासिल किया गया | माह फरवरी 2021 (01.02.21 से 24.02.21 तक) के दौरान विद्युत् लोको शेड, झाँसी में सोलर पॉवर प्लांट से औसत CUF% 16.5% था | यह झाँसी डिवीज़न मे सर्वोच्च CUF % हैं | यह सोलर पैनल के प्रतिदिन अनुरक्षण एवं नियमित सफाई के कारण संभव हुआ हैं |

Øमल्टीपल यूनिट का गठन

झाँसी शेड के 50 से अधिक मल्टीपल यूनिट लोको (WAG-5 लोको) लाइन पर सामान्य कार्य कर रहे हैं |

Øविजलेंस कंट्रोल डिवाइस (VCD)

सभी 216 लोको में VCD लगा हुआ हैं |

ØMPCS

कुल 111 लोको MPCS (Micro Processor Based With Fault Diagnostic System) युक्त हैं |

ØSIV

कुल 91 लोको SIV (Static Convertor) युक्त हैं |

ØHigh Reach Pantograph

कुल 10 लोको High Reach Pantograph युक्त हैं |

ØRTIS

कुल 08 लोको RTIS (Real Time Train Information System) युक्त हैं |


 

नवाचार एवं प्रणाली सुधार

·लाइन पर VCB इंसुलेटर बर्स्ट टाइप के फेल्योर रोकने हेतु HV टेस्टिंग सुविधा का विकास किया गया |

·गैपलेस लाइटनिंग अरेस्टर से लीकेज करंट विश्लेषक: गैपलेस लाइटनिंग अरेस्टर(GPLA) की सुरक्षा की दृष्टि से अनुरक्षण एवं स्तिथि अनुसार निगरानी हेतु लीकेज करंट विश्लेषक (LCA) खरीदा गया व झाँसी शेड में माह जनवरी 2021 से कार्य में लाया गया | यह सर्ज अरेस्टर से बहने वाली करंट में से करंट लीकेज दर्शाता हैं | LCA का उपयोग सर्ज अरेस्टर की क्षय होती कार्यकुशलता का पता लगाने हेतु भी कर सकते हैं | इस प्रकार से फेल्योर रोकने हेतु आवश्यक निरोधक उपाय किये गये हैं |

·बियरिंग को रोटर शाफ़्ट पर फिट करने हेतु जिग का विकास किया गया जिससे बियरिंग की इनर एवं आउटर रेसर पर एकसमान दबाब सुनिश्चित किया जा सके |

·ब्रेक सिलिंडर की असेम्बली एवं डिस-असेम्बली हेतु शेड द्वारा फिक्सचर का विकास किया गया | इससे ओवरहालिंग कार्य करने में कम मेहनत लगाती हैं |

·DJ को सावधानीपूर्वक सँभालने हेतु एवं शॉप फ्लोर से लोको तक ले जाने व वापस लाने के लिए Stand cum Trolley का विकास किया गया हैं | DJ को ओवरहालिंग कार्य के दौरान Stand cum Trolley में DJ को वांछित स्तिथि में पकड़ने के लिए व्हील के साथ लेचिंग व्यवस्था की गयी हैं |

·झाँसी शेड के प्रयासों से 31 लोको में M/s Medha मेक MPCS ver-3 कार्य में लाये गये हैं जो कि लोको मानदण्डो की रिमोट मोनिटरिंग हेतु सक्षम हैं |

·M/s Siemens, M/s Hirect एवं M/s AAL मेक SIV कूलिंग फेन की ओवरहालिंग के उपरांत रन टेस्ट हेतु फिक्सचर का विकास किया गया हैं | इससे SIV के कूलिंग फेन की कार्य विश्वनीयता में सुधार होगा |

·लोको ट्रांसफार्मर (TFP) एवं टेप चेंजर (GR) के इंसुलेटेड आयल में नमी की टेस्टिंग हेतु Microprocessor Based Digital Automatic KARL FISCHER Titration Appratus (COULOMETRIC TYPE)

·अनुरक्षण में गंभीर स्थानों पर स्तिथ दिखाई न देने वाले भागो का Wi-Fi युक्त Bore-Scope की सहायता से निरीक्षण के साथ स्मार्ट मोबाइल फ़ोन एवं लैपटॉप पर चित्र भी प्राप्त किया जा सकता हैं |

·दिनांक 18.06.21 में पोर्टेबल ऑफ लाइन TFP सेंट्रीफयूजिंग मशीन (केपेसिटी 5000 लीटर/ऑवर) को TFP आयल में नमी व घुली गैसों को हटाने के लिए कार्य में लिया गया हैं जिससे BDV बढ़ सके |

·दिनांक 28.06.19 को M/s EECI मेक Ultrasonic Testing मशीन (UFD Digiscan DS 333) को एक्सल, TM आर्मेचर शाफ़्ट, एक्वालाईजिंग बीम के दोष पता लगाने हेतु कार्य में लिया गया ताकि इनके लाइन फेल्योर रोके जा सके |

·WAG-5 एवं WAG-7 लोको में ब्रेक हेंगर को सामानांतर करने हेतु टेस्ट जिग का झाँसी शेड द्वारा विकास किया गया | इससे ओवरहालिंग के दौरान लोको ब्रेक सिस्टम में सुधार होगा |

·लोको नो. 23707 (अजनी) में इनर शोर्ट एक्वालाईजिंग बीम का ऑनलाइन सफल प्रतिस्थापन किया गया | (मल्टीपल लोको 23707 + 23918)

·दिनांक 12.11.19 को सन्देश आया कि आगरा डिवीज़न के हरदुआ गंज में लोको न. 23707 (अजनी) में इनर एक्वालाईजिंग बीम टूट गयी है व एक्सल बॉक्स पर टिकी हैं जिसे पहली बार झाँसी शेड के स्टाफ द्वारा बदला गया | यह एक कठिन कार्य था परन्तु झाँसी शेड स्टाफ द्वारा प्रवीणतापूर्वक ऑनलाइन बदली किया गया |

·दिनांक 05.01.21 को TM की बियरिंग ग्रीस, ऑक्जिलरी मशीन, एक्सल बॉक्स एवं MSU ग्रीस में फेरस कंटेंट की मात्रा को मापने के लिए टेस्ट मशीन कार्य में ली गयी |

·दिनांक 05.01.21 को नई अतिरिक्त ट्रैक्शन मोटर रन टेस्ट panel कार्य में लिया गया जिससे ओवरहाल्ड ट्रैक्शन मोटर का शॉप फ्लोर पर रन टेस्ट किया जाता है | इस panel में एक साथ 02 TM का रन टेस्ट किया जा सकता हैं |

·सभी कर्मचारियों का UMID में पंजीकरण किया जा चुका हैं |

·शेड में सभी 3 लिफ्टिंग बे (हेवी लिफ्टिंग, लाइट लिफ्टिंग, मीडियम लिफ्टिंग) में ऊपरी क्रेन गैन्ट्री रेल्स को घिसने के कारण बदला गया |

·बैटरी रूम को रखने एवं एक स्थान से दूसरे स्थान तक लेन/ ले जाने हेतु श्रम दक्षतापूर्वक उन्नत क्या गया हैं | एसिड द्वारा फ्लोर/ कार्य प्लेटफार्म को अपघटन से बचाने हेतु एसिड प्रूफ टाइल्स लगे गयी हैं | कार्य क्षेत्र में बैटरी के जमाव से बचाव हेतु अतिरिक्त बैटरी स्टैंड बनाया गया हैं |

फायर सुरक्षा

Øआपातकालीन फायर सेफ्टी एक्शन प्लान तैयार किया गया हैं | कुल 49 DCP टाइप और CO2 टाइप फायर एक्सटिंग्यूसर झाँसी शेड के विभिन्न स्थानों पर रखे गये थीं ताकि शेड में फायर केस के समय तुरंत उपयोग किये जा सके |

Ø20 नं फायर एक्सटिंग्यूसर बॉल को फायर सेफ्टी की दृष्टि से शेड के विभन्न सेक्शनो में गंभीर स्थानों पर लगाया गया हैं | फायर एक्सटिंग्यूसर बॉल, आग को प्राम्भिक अवस्था में बुझाने में सक्षम हैं जिससे कम से कम नुकसान होगा और सुरक्षा बढेगी |

Øवर्ष में एक बार कर्मचारियों को फायर केस से सावधानी हेतु फायर सेफ्टी मोक ड्रिल का आयोजन किया जाता हैं | विगत वर्ष में दिनांक 28.08.20 को मोक ड्रिल का आयोजन किया गया था |

Øफायर एक्सटिंग्यूसर के प्रयोग हेतु समय-समय पर शेड स्टाफ हेतु एवं अनुरोध पर रनिंग स्टाफ हेतु ट्रेनिंग का आयोजन किया जाता हैं | अंतिम आयोजन दिनांक 28.08.20 से 17.10.20 तक किया गया था |

डीजल लोको शेड झाँसी को डीजल शेड में इलेक्ट्रिक लोको के अनुरक्षण हेतु सहायता :

Øविद्युत् लोको शेड झाँसी से डीजल लोको शेड झाँसी को सितम्बर 20 से जून 21 तक29 WAG-7 लोकोमोटिव का स्थानान्तरण किया गया हैं |

Øडीजल शेड स्टाफ एवं ऑफिसर को सम्पूर्ण ट्रेनिंग दी गयी |

Øडीजल शेड झाँसी को इलेक्ट्रिक लोको संबंधी आवश्यक सामग्री सहायता, तकनीकि सहायता एवं डॉक्यूमेंट भी उपलब्ध कराये गये |

Øए.सी.लोको में कार्य के समय सुरक्षा हेतु सेफ्टी ट्रेनिंग प्रदान की गयी |

Øडीजल शेड स्टाफ को इलेक्ट्रिक लोको के अनुरक्षण हेतु विभिन्न चरणों में ट्रेनिंग दी गयी :

·अधिकारियो के स्तर पर प्रणाली व्यवस्था एवं M&P आवश्यकता |

·सुपरवाइजर के स्तर पर कार्य प्रबंधन एवं गुणवत्ता विश्वशनीयता हेतु क्लास रूम के साथ-साथ कार्य क्षेत्र में |

·तकनीशियनों के स्तर पर उपकरणों की ओवरहालिंग एवं असेंबली हेतु क्लास रूम के साथ-साथ कार्य क्षेत्र में |

·प्रति व्यक्ति पारस्परिक विमर्श एवं व्याख्यान |

Øझाँसी शेड ने स्टाफ को सिखाने हेतु शैक्षिक सामग्री भी तैयार की हैं | इसमें शेड द्वारा ट्रेनिंग हेतु लोको उपकरणों का अनुरक्षण, टूल्स के प्रयोग, उपकरणों की टेस्टिंग, कार्य के दौरान सेफ्टी आइटम और व्हील लिफ्टिंग प्रक्रिया संबंधी विडिओ भी तैयार किया हैं |

Øदिनांक 19.09.20 को डीजल शेड झाँसी द्वारा अनुरक्षण के उपरांत प्रथम WAG-7 लोको को कार्य हेतु लाइन पर दिया गया |





Source : CMS Team Last Reviewed on: 13-08-2021  


  प्रशासनिक लॉगिन | साईट मैप | हमसे संपर्क करें | आरटीआई | अस्वीकरण | नियम एवं शर्तें | गोपनीयता नीति Valid CSS! Valid XHTML 1.0 Strict

© 2010  सभी अधिकार सुरक्षित

यह भारतीय रेल के पोर्टल, एक के लिए एक एकल खिड़की सूचना और सेवाओं के लिए उपयोग की जा रही विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं द्वारा प्रदान के उद्देश्य से विकसित की है. इस पोर्टल में सामग्री विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं और विभागों क्रिस, रेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा बनाए रखा का एक सहयोगात्मक प्रयास का परिणाम है.